बीमा कंपनियों को 75 प्रतिशत मंजूरी प्रदान कर दी*भाजपा ने बागियों को टिकट नहीं दिया: गोयल....*सिंचाई परियोजनाओं के बारे में मिश्रा की भारती से..*अश्विन काफी महत्वपूर्ण खिलाड़ी: वाटमोर...*ब्लूटुथ,कीबोर्ड से कनेक्ट होने वाला डिटैचेबल टैबले*माली के सैन्य शिविर में कार बम विस्फोट, 25 मरे*हरदोई में हुई सड़क दुर्घटना में छात्र की मौत*बाराबंकी:भांग ठेकेदार ने शराब ठेकेदार को गोली मारी*साइबर अपराध की घटनायें बढ़ी*नक्सलियों ने की सरपंच की धारदार हथियार से हत्या*
‘हॉल ऑफ फेम’ क्लब में शामिल हुए कपिल देव
शीना बोरा मर्डर इंद्राणी, पीटर मुखर्जी पर हत्या के आरोप तय
चाँद पर उतरने वाले जीन सरनान का निधन
दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम का निर्माण कार्य शुरू
मुख्यपृष्ठ राष्ट्रीय विश्व शहर  व्यापार खेल मनोरंजन शिक्षा सम्पादकीय क्लासिफाइड Appointment पत्रिकाएँ आज का पंचांग
कितनी कॉलोनियां अवैध? जल्द खुलेगा राज
On 9/21/2013 6:56:07 PM

Change font size:A | A

Print

E-mail

Comments

Rating

Bookmark

भोपाल। बिना डायवर्सन व एनओसी के कृषि भूमि पर प्लॉट काटकर बेचने वालों पर अब एक और पहाड़ टूटने वाला है। उनके द्वारा प्लॉट काटकर बनाई जा रही कॉलोनियों को अवैध की सूची में रखा जाएगा। यहीं नहीं इस सूची को विज्ञापन के तौर पर अखबारों में प्रकाशित कर आम जनता को सचेत भी किया जाएगा कि नवीन निíमत हो रही यह कॉलोनियां अवैध हैं। यहां पर प्लॉट या मकान न खरीदें। इसको लेकर हुजूर एसडीएम ने तैयारी शुरू कर दी है। जल्द ही हुजूर क्षेत्र में बनी और बनाई जा रही अवैध व वैध कॉलोनियों के राज खुल जाएंगे।
किसको अनुमति मिली, किसको नहीं
आचार संहिता लागू होने से पहले अवैध व वैध कॉलोनियों की सूची को प्रकाशित कराने की तैयारी में जुटे हुजूर एसडीएम का कहना है कि इस सूची से सामने आएगा कि विकसित व विकासशील कौन से कॉलोनी के पास सभी अनुमतियां हैं और किसके पास नहीं। इसके अतिरिक्त यह भी सामने आएगा कि किस कॉलोनी में लोग प्लॉट खरीद सकते हैं और किसमें नहीं। इससे लोग ठगे भी नहीं जा सकेंगे। जो अवैध कॉलोनियां सामने आएंगी उनके प्लॉटों के नामांतरण भी नहीं किए जाएंगे, जब तक वह पूरी अनुमतियां नहीं ले लेते।

अवैध कॉलोनी का निर्माण रोकने निकाला नया रास्ता
अधिकारियों की माने तो सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद एसडीएम कोर्ट द्वारा अवैध कॉलोनियों के प्लॉट्स की रजिस्ट्री पर जो रोक लगाई थी, वह समाप्त हो गई है, क्योंकि कोर्ट ने निर्देश में कहा है कि स्टांप अधिनियम के तहत रजिस्ट्री पर रोक लगाने का अधिकार किसी को नहीं है। इसके चलते वर्तमान में पंजीयन कार्यालय में अवैध रूप से निर्मित हो रही कॉलोनियों में कम कीमत में खरीदे गए प्लॉटों की अटकी पड़ी रजिस्ट्रियां धड़ल्ले से हो रही है। हालांकि नामांतरण पर रोक अभी भी होने के कारण, जमीन का नामांतरण नहीं हो पा रहा है। अब इन अवैध कॉलोनियों के विकास को रोकने के लिए जिला प्रशासन ने यही नया रास्ता निकाला है। जब आम जनता के सामने आ जाएगा कि कौन सी कॉलोनी वैध है और कौन सी अवैध, तो वह स्वत: ही वैध कॉलोनी में प्लाट या मकान लेने का प्रयास करेंगे। यहीं नहीं कॉलोनाइजर व बिल्डर भी नवीन कॉलोनी विकसित करने से पहले सभी अनुमतियां लेकर वैध कॉलोनी ही बनाने का प्रयास करेंगी।

56 से अधिक कॉलोनियों पर लगाई रोक
कृषि भूमि पर छोटे-छोटे प्लॉट काटकर कॉलोनी विकसित करने वाले कॉलोनाइजर बिना डायवर्सन व अनुमतियों के ही कार्य कर रहे थे। इस पर शिकंजा कसते हुए तत्कालीन एसडीएम ने इनके निर्माण कार्य पर रोक लगाने के साथ-साथ प्लॉट की रजिस्ट्री व नामांतरण पर भी रोक लगा दी थी। पिछले दो साल में 26 गांवों की ऐसी करीब 56 अवैध कॉलोनियां इस सूची में शामिल हैं, जिनके नामांतरण व रजिस्ट्री पर रोक लगाई गई है। यह 56 कॉलोनियां करीब 2000 एकड़ भूमि पर बनाई जा रही थीं। इस रोक के बाद अभी तक एक भी कॉलोनाइजर ने सभी अनुमतियां प्राप्त नहीं की हैं।

Post Comments
More News
आर्मी डे पर दिखा शौर्य........
जल्द ही जाम से मिलेगी मुक्ति...
हवाओं ने बदला रुख, पारा चढ़ा...
बीएमएचआरसी की तर्ज पर हमीदिय...
जर्नल्स का स्तर सूची के लायक...
जंगली सूअर ने किया किसान पर ...
तोड़ दी अंबेडकर प्रतिमा दिनभ...
आगर-मालवा: पुलिस ने 2 ट्रकों...
छात्रवास में छात्रों का रहना...
बहन को लूटा, भाई ने पीछा किय...
अपराधियों के लिए काल हैं सेल...
‘तिरुपति बालाजी’ के स्पेशल द...
शहीदी दिवस पर सजा दीवान .......
सूद ही आत्महत्याओं की वजह......
सब्सिडी खत्म हुई तो सस्ता हो...
पेंशनर्स जाएंगे गांव-गांव अं...
विस्फोटों का निरीक्षण करने ज...
समग्र चिकित्सा कार्यशाला में...
शहर में बाइक चोरों का आतंक ....
स्वाइन फ्लू से रहें सावधान.....
अयप्पा मंदिर में मकर ज्योति ...
शहर की खूबसूरती को लगी चोरों...
हमीदिया में एंटीबायोटिक दवाओ...
सोलर प्लांट की बिजली से रोशन...
30 फीसदी तक कम हो जाएगा याता...
नेशनल पार्को में तैनात होंगे...
पांच हजार से अधिक बकाया तो क...
खून बहने दो, पीछे नहीं हटना...
पीने को पानी, पढ़ाने को शिक्...
आंखों में जलन व त्वचा में खु...
नौकरी में अब तक नहीं आया कोई...
राजधानी में बनेंगी ग्रीन बिल...
पहली बार लड़कियां बनेंगी टू ...
रसूखदार ही दिखा रहे नियमों क...
कोलुआ के ग्रामवासियों ने रोड...
60 साल की आदिवासी महिला डूडी...
अस्पताल से फरार आरोपी जंगल स...
मप्र.मानव अधिकार आयोग ने पीड...
दस हजार का इनामी फरार गिरफ्त...
बदली हवाओं की दिशा,गिरा पारा...
केबल स्टे ब्रिज के ट्रैफिक म...
सीने में चाकू घोंपकर ऑटो चाल...
गवाहों पर फायरिंग करने वाला ...
मुलताई में फर्जी इंजीनियर पक...
राजनीति और जातियों का भी पड़...
सुभाष नगर ओवरब्रिज का 30 फीस...
दर्जनों कार्यकर्ताओं के साथ ...
मेडइजी कोचिंग बेस्ट इन एमपी ...
मुख्यमंत्री शिवराज से छात्रओ...
कार कि डिग्गी में रखा लाखों ...
डिप्रेशन निगल रहा मासूम जिंद...
मासूम बच्ची से छेड़छाड़ करने...
पीसीसी प्रमुख के खिलाफ मामला...
मर्जर के लिए आखिर कब तक बनते...
पत्नी से विवाद होने के कारण ...
छतों पर लगाएं सोलर प्लांट बि...
धूप सेंकते हुए दिखे चीतल और ...
कापरेरेट का रूप लेगा राज्य ओ...
स्टेडियम में आग, पोल बॉल्ट क...
काबलियत के लिए कमिटमेंट की आ...
अत्याचार बढ़ने पर जन्म लेते ...
खोई दक्षताएं हासिल करेंगे तभ...
आरजीपीवी: एक्जामिनेशन प्रोसे...
55 फीसदी वाले परीक्षा से वंच...
जीआरपी में सुरक्षा का दायरा ...
गाड़ी का नंबर दादा........
राज्य शिक्षा केंद्र में धरने...
सेवा सदन में नेत्र रोगियों क...
सिंचाई परियोजनाओं के बारे मे...
 सम्पर्क करें  विज्ञापन दरें आपके सुझाव संस्थान
© Copyright of Rajexpess 2009,all right reserved.
Developed & Designed By: