विश्वकप जूनियर हाकी प्रतियोगिता कल से...*भिंड में सड़क दुघर्टना में 3 की मौत, 6 घायल*दिल्ली में कोहरे के कारण हवाई, ट्रेन सेवाएं प्रभा.*कानपुर व्यापारी कि हत्या का खुलासा*सोने में लगातार दूसरे दिन गिरावट*कारखानों के कर्मचारियों के लिए GOOD NEWS*कोहरे से हुई सड़क दुर्घटना में कांस्टेबल की मौत*बेल्जियम में I.S. को समर्थन देने के संदेह में 8...*राजस्थान: तीर्थयात्र नि:शुल्क तीर्थ यात्र के लिए..*नौसेना ने 800 फंसे पर्यटकों को बचाया ......*
सेना में अब जिप्सी की जगह लेंगी टाटा की लग्जरी गाड़ियां
शीतकालीन सत्र में कई दिन बाद संसद पहुंचीं सोनिया
250 रुपए प्रति टन के भाव पर बिक रहे पुराने नोट
गरीबी का जिक्र नहीं फिक्र करते हैं गरीब
मुख्यपृष्ठ राष्ट्रीय विश्व शहर  व्यापार खेल मनोरंजन शिक्षा सम्पादकीय क्लासिफाइड Appointment पत्रिकाएँ आज का पंचांग
रेफर मरीजों को इलाज में दिक्कतें
On 4/17/2012 6:32:41 PM

Change font size:A | A

Print

E-mail

Comments

Rating

Bookmark

भोपाल। पेट के इलाज के लिए सागर जिले के देबरी से आई कौशल्या बाई को इंडोस्कॉपी कराना थी, लेकिन हमीदिया अस्पताल में यह मशीन तीन साल से खराब है। बीपीएल कार्ड होने के बाद भी इसे एक निजी चिकित्सा संस्थान में जांच कराना पड़ी, जिसमें ढाई हजार रुपए लग गए। यही स्थिति रामलाल रैकवार की रही जो विदिशा जिले की ग्यारसपुर से हार्ट के इलाज के लिए हमीदिया आया था, लेकिन इसकी टीएमटी जांच नहीं हो पाई। ऐसे कई मरीज हैं जो बाहर से हमीदिया, कमला नेहरू, सुल्तानिया सहित अन्य अस्पतालों में रेफर होकर अथवा स्वत: इलाज के लिए पहुंचते हैं, लेकिन उन्हें प्रापर इलाज नहीं मिल पा रहा है। ऐसे मरीजों का दर्द है कि इससे तो वह वहीं अच्छे थे, जहां पहले उनका इलाज चल रहा था।

तीव्र गति से नहीं हो रहा काम

मेडिकल कॉलेज की स्वशासी समिति की बैठक में यह निर्णय लिया जा चुका है कि कई चिकित्सा उपकरण पीपीपी माडल से लगवा लिए जाएं और गामा कैमरा, सीटी स्केन जैसी महत्वपूर्ण जांचें अस्पताल में ही की जाएं इसके लिए नए चिकित्सा उपकरण क्रय किए जाएं, लेकिन चिकित्सा उपकरण खरीदी की रफ्तार धीमी है। इससे मरीजों को नुकसान हो रहा है।

निजी अस्पतालों को मिल रहा लाभ

यह स्थिति केवल हमीदिया की ही नहीं है बल्कि राजधानी के लगभग सभी अस्पतालों की है जहां जांच के लिए चिकित्सा उपकरण नहीं हैं। मरीजों को जांच बाहर से कराना पड़ रही हैं और मरीजों को निजी चिकित्सा संस्थानों में मनमानी कीमत चुकाना पड़ रही है। जेपी में एक्सरे मशीन ने जवाब दे दिया है तो सुल्तानिया में सोनोग्राफी के लिए गर्भवती महिलाएं परेशान हो रही है।

यह मशीनें हैं खराब

एंडोस्कोपी

-- कब से - दो साल से

-- काम - पेट की जांच

-- कितने मरीज प्रतिदिन - 20 से 30

-- निजी चिकित्सा संस्थानों में जांच की फीस - एक से दो हजार रुपए

टीएमटी

-- कब से - तीन साल से

-- काम -ह्दय में आक्सीजन की कमी एवं धड़कन की जांच

-- कितने मरीज प्रतिदिन - 20 से 30

-- निजी चिकित्सा संस्थानों में जांच की फीस - 350 से 500 रुपए

सीटी स्केन

-- कब से - हमीदिया में यह मशीन नहीं है, कमला नेहरू अस्पताल की मशीन पर कराना पड़ती है। यह मशीन भी 6 माह चलती है और 6 माह खराब पड़ी रहती है।

-- कारण - मशीन की उम्र पूरी हो चुकी है

-- काम - शरीर के किसी भी हिस्से की जांच की जा सकती है।

-- कितने मरीज प्रतिदिन - 30 से 40

-- निजी चिकित्सा संस्थानों में जांच की फीस - 2 से 3 हजार रुपए

कैथ लैब रिकार्डर

-- कब से - दो साल से

-- काम - हार्ट की एंजीयोग्राफी की रिकार्डिग कर सीडी तैयार की जाती है। इसे देखकर ही बायपास सर्जरी की जाती है।

-- कितने मरीज प्रतिदिन - 20 से 30

-- निजी चिकित्सा संस्थानों में जांच की फीस - 10 से 12 हजार रुपए

आडियोमेट्री

-- कब से - तीन साल से

-- काम - बहरेपन की जांच

-- कितने मरीज प्रतिदिन - 15 से 20

-- निजी चिकित्सा संस्थानों में फीस - 250 से 300 रुपए

टीयूआर

-- कब से - 6 माह से

-- काम - प्रोस्टेट की जांच

-- कितने मरीज प्रतिदिन - 20 से 30

-- निजी चिकित्सा संस्थानों में जांच की फीस - जांच सहित करीब 15 हजार में इसका ऑपरेशन किया जाता है।

गामा कैमरा

-- कब से - चार साल से

-- काम - शरीर के किसी भी हिस्से की संपूर्ण जांच की जाती है

-- कितने मरीज प्रतिदिन - कैंसर एवं रेडियोलॉजी विभाग में

हर दिन 5 से 10 मरीज पहुंचते हैं।

-- निजी चिकित्सा संस्थानों में जांच की फीस - यह कैमरा राजधानी में केवल जवाहर लाल कैंसर अस्पताल में है। जहां एक जांच के 5 से 7 हजार रुपए लगते हैं। जबकि हमीदिया में केवल 500 रुपए में जांच की जाती थी।

Post Comments
More News
50 मीटर दूर कुछ भी दिखाई नह...
अब न हो ऐसी त्रसदी, लें संकल...
15 लाख युवाओं को कौशल विकास ...
संपत्ति की जानकारी छिपाने मे...
केबल स्टे ब्रिज के लिए हटाया...
जनसंपर्क विभाग की परामर्शदात...
अनेक परीक्षार्थियों ने नंगे ...
नव विकसित कॉलोनियों का सर्वे...
15 हजार से ज्यादा दौड़े रन भ...
मल्टी की चौथी मंजिल से कूंदी...
ट्रक से भिड़ी कार, एक की मौत...
ट्रक ने बाइक को मारी टक्कर स...
फंदा के पास दो बसें भिड़ीं, ...
बंद कमरे में मिली इंजीनियर क...
जम्बूरी मैदान में बिखरा अलका...
निगम अधिकारियों पर दायर याचि...
स्मार्टफोन के इंतजार में राज...
घने कोहरे के चलते बदल सकता ह...
नसबंदी फेल की पीड़ा भोग रहीं...
कर्मचारी संघ में गायब मंगल, ...
उत्साह से मनाई जाएगी मास्टर ...
नुकसान की राशि बढ़ाने की कर्...
माइग्रेन से परेशान पंचायत सच...
मकान के छतों के बेहद करीब से...
किसानों और जवानों ने सीखा जै...
मध्यप्रदेश विस में जयललिता क...
घर बैठे करें आय, निवास प्रमा...
अब गरीबों को राशन नॉन असर यो...
मैं महापौर आलोक शर्मा बोल रह...
नव सृजन सम्मान से सम्मानित ह...
 सम्पर्क करें  विज्ञापन दरें आपके सुझाव संस्थान
© Copyright of Rajexpess 2009,all right reserved.
Developed & Designed By: